cricket asia cup: एशिया कप पर राज करती है ये टीम, 1984 से लेकर 2023 के बिच इन दो टीमो का रहा है दबदबा

cricket asia cup
Spread the love

cricket asia cup: क्रिकेट एशिया कप एशिया क्रिकेट काउंसलिंग के द्वारा करवाया जाता है इस टूर्नामेंट की शुरुआत पहली बार 1984 में हुआ था और भारत सुनील गवास्कर की कप्तानी में पहली बार एशिया का चैंपियन बना था. 1984 से लेकर 2023 तक 16 बार इस टूर्नामेंट का आयोजन किया जा चुका है जबकि 2025 में इस टूर्नामेंट का 17वां संस्करण T20 फॉर्मेट में खेला जाएगा. 1984 से लेकर अब तक भारत इस टूर्नामेंट की सबसे सफल टीम रही है.

उसके बाद श्रीलंका दूसरे नंबर पर आती है. जबकि पाकिस्तान इस टूर्नामेंट में अपना जलवा नहीं दिखा पाए हैं वह सिर्फ दो बार एशिया कप अपने नाम किया हैं लेकिन बांग्लादेश टीम एक बार भी एशिया कप नहीं जीत पाई है. 2025 के एशिया कप में भी भारत को सबसे प्रबल दावेदार टीम मानी जाएगी तो चलिए बात करते हैं कि आखिर कौन सी टीम 1984 से लेकर 2023 के बीच एशिया कप पर राज करती आ रही है.

भारत 1984 से लेकर अब तक एशिया कप पर राज करती आ रही है

cricket asia cup

एशिया कप की शुरुआत 1984 में एशिया क्रिकेट काउंसिल द्वारा करवाया गया था उस टूर्नामेंट में भारत सुनील गावस्कर की कप्तानी में बिजई रहा. फिर उसके बाद 1990 और 91 में मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में टीम इंडिया दूसरी दफा इस ट्रॉफी पर अपना कब्जा जमाया था. भारत अब तक 8 बार एशिया का चैंपियन बन चूका है जबकि श्रीलंका 6 बार इस ट्रॉफी को उठाया है वहीं पाकिस्तान की बात की जाए तो वह सिर्फ दो बार इस खीताब को अपने नाम कर पाई है. बांग्लादेश और अफगानिस्तान जैसी टीम एक बार भी इस ट्रॉफी को नहीं उठा पाई है.

ये भी पढ़े: Champions Trophy 2025: चैंपियन ट्रॉफी 2025 में भारत का पाकिस्तान सहित किन टीमो से है, मुकाबला आईए जाने

भारत मोहम्मद अजहरुद्दीन, महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा की कप्तानी में 2-2 बार इस टाइटल को अपने नाम किया है. जबकि सुनील गावस्कर और दिलीप वेंगसरकर की कप्तानी में एक-एक बार एशिया का चैंपियन बना है. भारत का शुरू से ही एशिया कप पर दबदबा रहा है और आगे भी रहने की काफी संभावना है.

1984 से 2023 के बिच बिजेता टीम लिस्ट  

1984 – भारत (सुनील गवास्कर)

1986 – श्रीलंका (दलीप मेंडिस)

1988 – भारत (दिलीप वेंगसरकर)

1990/91 – भारत (मोहम्मद अज़हरुद्दीन)

1995– भारत (मोहम्मद अज़हरुद्दीन)

1997 – श्रीलंका (अर्जुन रणतुंगा)

2000 – पाकिस्तान (मोईन खान)

2004 – श्रीलंका (मार्वन अटापट्टू)

2008 – श्रीलंका (महेला जयवर्धने)

2010 – भारत (एमएस धोनी)

2012 – पाकिस्तान (मिस्बाह-उल-हक)

2014 – श्रीलंका (एंजेलो मैथ्यूज)

2016 – भारत (एमएस धोनी)

2018 – भारत (रोहित शर्मा)

2022 – श्रीलंका (दासुन शनाका)

2023- भारत (रोहित शर्मा)

ये भी पढ़े: T20 world cup 2026 में पूरी तरह अलग दिखेगी भारतीय टीम, इस साल चैंपियन बनाने वाले अधिकतर खिलाड़ी नहीं आयेंगे नजर

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Scroll to Top