इन 4 खिलाड़ी के लिए टी20 वर्ल्ड कप 2024 खेलना न के बराबर है, फिर भी बीसीसीआई से आस लगाय बैठे हुये है

इन 4 खिलाड़ी के लिए टी20 वर्ल्ड कप 2024 खेलना न के बराबर है, फिर भी बीसीसीआई से आस लगाय बैठे हुये है
Spread the love

इन 4 खिलाड़ी के लिए टी20 वर्ल्ड कप 2024 खेलना न के बराबर है, फिर भी बीसीसीआई से आस लगाय बैठे हुये है

टी20 वर्ल्ड कप 2024 को लेकर सभी टीमे अभी से ही अपना- अपना तैयारी शुरू कर दी है. यह टूनामेंट इस साल जून में खेला जायेगा. साथ ही इस साल टी20 वर्ल्ड कप का 9 शंस्करण होने वाला है. यह टूनामेंट अमेरिका और वेस्टइंडीज में खेला जायेगा. क्रिकेट फैंस इस इवेंट को बेसब्री से इन्तेजार कर रहे है. इस टूनामेंट का सबसे दावेदार टीम भारत और ऑस्ट्रेलिया को बताया जा रहा है. भारत आखरी बार साल 2007 में महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में इस ट्रोफी को उठाया था. उसके बाद से टीम इंडिया इस ख़िताब को अपने नाम करने में अशफल साबित हुई है.

साथ ही होने वाले टी20 वर्ल्ड कप 2024 टीम में सामिल होने के लिए. भारतीय युवा खिलाड़ी अभी से ही टीम में सामिल होने के लिए अपनी दबेदारी पेश कर रहे है. लेकिन 4 ऐसे भी प्लेयर है जो बीसीसीआई से आस लगाय बैठे हुये है. की उन्हें उस टूनामेंट में खेलने का मौका मिल सकता है. लेकिन उन 4 खिलाड़ियों के लिए न के बराबर खेलने के चांस है. जिन 4 खिलाड़ी के बारे में हम बात कर रहे है. वह और कोइ नहीं बल्की भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल, रविचन्द्रन अश्विन और संजू सैमसन है. तो आईए जानते है इन चार खिलाड़ी के बारे में.

भुवनेश्वर कुमार

भारतीय टीम के स्टार गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार महजुदा समय में पिछले कई महीने से टीम इंडिया से दूर चल रहे है. इस गेंदबाज के लिए एक ऐसा भी दौर था. जब कुमार अपनी इन स्विंग गेंदबाजी से बिरोधी बल्लेबाज को चारो खाने चित कर देते थे. लेकिन अभ इनको कोइ पूछता भी नहीं है. महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में यह गेंदबाज टीम इंडिया की ओर से अपने करियर का शुरुआत किये थे. साथ ही उनके नाम एक ऐसा भी वर्ल्ड रिकॉड सामिल है. जो दुनिया के किसी भी गेंदबाज ने वह करनामा नहीं किया है. भुवनेश्वर कुमार तीनो फ़ॉर्मेट क्रिकेट में अपना पहल विकेट वोल्ड के रूप में लेने वाले एकलौते गेंदबाज है.

कुमार आखरी बार 2022 एशिया कप और टी20 वर्ल्ड कप में टीम की ओर से खेलते नजर आये थे. उस टूनामेंट में इस गेंदबाज को आखरी के ओवर में काफी मार पारी थी.. जिसके बाद टीम मैनेजमेंट उनको टीम इंडिया से बाहर का रास्ता दिखा दिये था. फिर भी यह गेंदबाज बीसीसीआई से आस लगाय बैठे हुआ है. की उनको टी20 वर्ल्ड कप 2024 में खेलने का मौका मिल सकता है. लेकिन उनको ना के बराबर टीम में सामिल होने के चांस है.

युजवेंद्र चहल

युजवेंद्र चहल को लेकर महजुदा समय में काफी चर्चा देखने को मिल रहा है. इस खिलाड़ी को पहले तो बीते वर्ल्ड कप टीम से बाहर का रास्ता दिखया गया था. और उनके जगह पर कुलदीप यादव को टीम में मौका मिला था. वर्ल्ड कप ख़तम होने के बाद अफ्रीका के खिलाप वनडे सीरीज के लिए चहल को टीम में चुना गया. जहा उस स्पिनर गेंदबाज को एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला था. उसके बाद अफगानिस्तान के खिलाप टी20 सीरीज से पूरी तरह बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है. अब इस खिलाड़ी के लिए टीम में वापसी करना मुश्किल हो गया है. फिर भी बीसीसीआई से आस लगाय बैठे है. की उनको टी20 वर्ल्ड कप टीम में खेलने का मौका मिल सकता है.

रविचंद्रन अश्विन

भारतीय टीम के सबसे अनुभवी स्पिनर गेंदबाज अश्विन फ़िलहाल टीम के लिए सिर्फ टेस्ट मैच खेल रहे है. इस गेंदबाज को बीते वर्ल्ड कप टीम मे समिल किया गया था. जहा सिर्फ एक मैच खिलाकर अश्विन का बाकी के मुकाबले से बाहर ही बैठना परा था. उस टूनामेंट के समाप्त होने के बाद इस प्लेयर का किशी भी सीरीज के लिए टीम में नहीं चुना गया था. फिर भी अश्विन बीसीसीआई से आस लगाय बैठे है. की उनको टी20 वर्ल्ड कप में खेलने का मौका मिल सकता है.

संजू सैमसन

भारतीय टीम के विकेट कीपर बल्लेबाज संजू सैमसन एकलौते खिलाड़ी है. जो कभी टीम में अन्दर तो कभी बाहर होते रहते है. इस बल्लेबाज को लेकर काफी चर्चा होती रहती है. सैमसन को वर्ल्ड कप टीम में न चुनने पर काफी बबाल हुआ था. जिसके बाद इस खिलाड़ी को अफ्रीका और अफगानिस्तान के खिलाप टी20 सीरीज के लिए खेलने का मौका मिला है. जहा यह बल्लेबाज अफगानिस्तान के खिलाप पूरी तरह फ्लॉप साबित हुये है. अब इनके लिए टी20 वर्ल्ड कप खेलना मुश्किल हो गया है. फिर भी सैमसन बीसीसीआई से आस लगाय बैठे है. की उनको टी20 वर्ल्ड कप में खेलने का मौका मिल सकता है.

Scroll to Top